डायबिटीज रोगियों के लिए कारगर घरेलु चिकित्सा

-

डायबिटीज आज की भाग-दौड़ वाली जीवन शैली से होने वाली बिमारियों में से एक है। इसे जीवन शैली में मामुली परिवर्तन तथा स्वास्थ्यवर्धक आहार लेकर नियंत्रित किया जा सकता है। डायबिटीज रोग शरीर में शुगर की उच्च मात्रा से होती है। ब्लड में शुगर के स्तर कम करने के अंसख्य इलाज है किन्तु घरेलु चिकित्सा इसका कारगर उपाय है।

डायबिटीज-रोगियों-के-लिए-कारगर-घरेलु-चिकित्साImage Source: https://acp-asim-missouri.org/

डायबिटीज के लिए घरेलु उपचार

तुलसी
तुलसी की पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं और ये तत्व शरीर में इन्सुलिन का संग्रह करने तथा छोड़ने में सहायता करते हैं। तुलसी की पत्तियों में पाये जाने वाली एन्टी ऑक्सीडेन्ट तनाव दूर करने में सहायक है।
2-3 तुलसी की पत्तियों पूरी चबा ले, या एक चम्मच इसका रस खाली पेट ले लेवे। यह शरीर में शुगर का स्तर कम करता है।

तुलसी_1Image Source: https://ecx.images-amazon.com/

अलसी
अलसी में पाए जाने वाला रेशा भोजन के पाचन में सहायक है तथा यह शरीर में से चर्बी तथा शुगर की अधिक मात्रा को अवशोषित करती है।
अलसी डायबिटीज रोगियों की 28 प्रतिशत से अधिक शुगर लेवल को कम करती है।

अलसी

Image Source: https://www.publimetro.com.mx/

टिप: रोज सुबह एक चम्मच अलसी का पाउडर खाली पेट गरम पानी के साथ ले। यह एक दिन में दो चम्मच से ज्यादा नहीं होना चाहिए, नही तो यह आपकी सेहत को नुकसान पहुँचा सकते है।

ब्लूबेरी की पत्तियाँ
ब्लूबेरी की पत्तियों का प्रयोग आयुर्वेद में डायबिटीज रोग के उपचार में सदियों से होता रहा है। पोषण विशेषज्ञों के अनुसार ब्लूबेरी की पत्तियों में एनयोसाइनिडिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। ये प्रोटीन की क्रियाशीलता बढ़ाते है जो ग्लुकोज तथा चर्बी की रासायनिक प्रक्रिया में सहायक है। इसके अतिरिक्त ब्लूबेरी की पत्तियाँ रक्त में शुगर की मात्रा कम करती है।

Blueberry-leavesImage Source:https://newfs.s3.amazonaws.com/

टीपः ब्लूबेरी की पत्तियों को एक खरल पर पीस ले तथा 200 मिलीग्राम रोज खाली पेट सेवन करें।

दालचीनी
दालचीनी शरीर में इन्सुलिन में सुधार करता है तथा रक्त में ग्लुकोज का लेवल कम करता है। यह वजन कम करने तथा हार्ट अटैक के खतरों को कम करने में उपयोगी है।

दालचीनीImage Source: https://www.bien.hu/

टिप: एक ग्राम दालचीनी को अपने रोजाना के आहार में शामिल करने से एक माह में ही रक्त में शुगर का स्तर कम होने लगता है।

ग्रीन-टी
अन्य चाय की अपेक्षा ग्रीन-टी में खमीर नहीं उठता है। पोलीफीनांल एक मजबूत एन्टीऑक्सीडेंट है तथा हायपो-ग्लाइकेमिक कम्पाउण्ड है जो ब्लडशुगर की मात्रा में कम करके शरीर में इन्सुलिन को ठीक करता है।

ग्रीन-टीImage Source: https://fashiontalk.co.in/

टिप: 2-3 बेग ग्रीन-टी के गरम पानी में डाले। बेग हटाए ओर सुबह खाना खाने से पहले पी ले।

ड्रम स्टीक की पत्तियाँ
इसे मोरिगां भी कहते है। यह पौधे की पत्तियाँ एनर्जी बढ़ाने में उपयोगी है। मोरिंगा की पत्तियाँ ब्लड प्रेशर को कम करती है।

ड्रम-स्टीक-की-पत्तियाँImage Source: https://www.moringa-drumstick.com/

टिप: कुछ ड्रम स्ट्रीक की पत्तियाँ धोकर तोड़ ले तथा रस निकाल ले। 1/4 कप रस रोज सुबह खाली पेट पी ले। यह शुगर का लेवल नियंत्रण में रखती है।

इसबगोल:
जब इसबगोल को पानी में मिलाया जाता है तो यह जेल जैसा दिखाई देता है। यह शारीरिक विकार को कम करता है तथा ब्लड में से ग्लुकोज को अवशोषित करता है। इसबगोल अल्सर तथा एसीडीटी से पेट की रक्षा करता है।

IsabgulImage Source: https://www.enkivillage.com/

टिप: रोज खाना खाने के बाद पानी या दूध के साथ इसबगोल ले। इसे दही के साथ नहीं लेना चाहिए क्योंकि इससे कब्ज हो सकता है।

करेला
करेले के पौधे में इन्सुलिन पोलीपेपटाइट-पी नामक जैव रसायन पाया जाता है। यह शरीर में शुगर का स्तर कम करता है।
करेला डायबिटीज रोगियों के लिए लाभदायक है क्योंकि इसमें आवश्यक चाराटिन तथा मोमोरडिचिन होता है जो रक्त में शुगर का स्तर कम करने में मुख्य भूमिका निभाता है।

करेलाImage Source: https://img01.ibnlive.in/

टिप:सप्ताह में एक बार करेले को सब्जि या कड़ी के रूप में प्रयोग करे। अच्छे परिणाम के लिए तीन दिन में एक बार करेले का रस पीए।

नीम
नीम भारत में मुख्य रूप से पाया जाता है नीम की पत्तियाँ चिकित्सीय रूप में वरदान है। यह धमनियों को फैलाकर रक्त परिसंचरण तंत्र को दुरूस्त करता है। रक्त में ग्लुकोज का स्तर कम करके हाइपोंग्लाईसेमिक ड्रग पर व्यक्ति की निर्भरता कम करता है।

नीमImage Source: https://img01.ibnlive.in/

टिप % अच्छे परिणाम के लिए नीम की पत्तियों का रस खाली पेट पीए।  

Share this article

Recent posts

इन 9 आसान तरीकों से कैलोरी करें बर्न वो भी बिना खास मेहनत किए हुए

आज के समय में हर किसी की सबसे बड़ी समस्या बन चुकी है मोटापा। लोग अपने बढ़ते वजन को कम करने के लिए ना...

शरीर के लिए तिल के बेमिसाल फायदे, देगें आपको कई स्वास्थ्य लाभ

तिल का उपयोग काफी पुराने समय से किया जाता रहा है। ये हमारे यहाँ पाई जाने वाली सबसे पुरानी फसलों में से एक है।...

मैनिक्योर से जुड़ी ये 8 गल्तियां पड़ सकती हैं आप पर भारी

लॉकडाउन के समय पार्लर बंद होने की वजह से महिलाओं नें अपने सौन्दर्य से जुड़े हर काम घर पर ही रह कर किए हैं।...

8 बेहतरीन होम मेड मेंहदी हेयर पैक जो आपके बालों में जान डाल देंगे

हमारे बाल किरेटिन नामक प्रोटीन से बने होते हैं जो बालों को मजबूत बनाए रखने में मदद करते हैं। हालांकि, ये प्रोटीन प्रदूषण, सूर्य...

चावल के पानी से अपने बालों को बनाएं स्वस्थ और चमकदार, जानें पूरी विधि

आज के समय में अच्छे और स्वस्थ बालों की चाहत हर किसी को होती है पर इसके लिए शायद हमें काफी खर्चा पार्लर में...

Popular categories

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments