गर्भधारण नहीं कर पा रहीं तो ध्यान दें इन बातों पर

-

अगर आप जल्दी ही मां बनना चाहती हैं और काफी समय से गर्भधारण करने का प्रयास कर रही हैं, लेकिन फिर भी ऐसा नहीं हो पा रहा है तो इसकी कई वजह हो सकती है। आपकी दिनचर्या से जुड़ी ऐसी कई आदतें हो सकती हैं जिसका सीधा असर आपके गर्भ धारण पर पड़ रहा हो।

अगर आप अपनी नींद को ज्यादा तवज्जो नहीं देतीं और कभी भी किसी भी परिस्थिति में सो जाती हैं तो यह आदत आपके लिए गलत साबित हो सकती है। टीवी के शोर के बीच या कमरे में जलती हुई लाइट में ही सो जाना कुछ ऐसे कारण हैं जिनसे प्रजनन क्षमता कम होती है। किसी भी तरह के डिस्टर्बेंस से आपकी नींद में खलल पैदा होता है और यह उन महिलाओं के लिए ठीक नहीं है जो जल्दी गर्भ धारण करना चाहती हैं। अगर आपको भी गर्भाधारण करने में समस्या हो रही हो तो अपनी इस आदत को तुरंत ही बदल डालिए।

sleeping patternImage Source:https://entregeneros.com/

इस बारे में क्या कहती है रिसर्च

ओसाका यूनीवर्सिटी के यूसीएलए के रिसर्चरों और जापान सांस और टेक्नॉलजी एजेंसी की एक रिसर्च के मुताबिक आधी उम्र की महिलाओं को गर्भधारण करने के लिए अंधेरे में संबंध बनाने चाहिए। शोधकर्ताओं के मुताबिक ऐसी महिलाएं जो प्रेग्नेंट होना चाहती हैं उन्हें रात की अच्छी नींद के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि –

dr

1. रात में समय पर डिनर करना चाहिए। साथ ही रात के समय हल्का भोजन करें।

2. रात के समय कमरे में हल्की रोशनी रखें या हो सके तो अंधेरा कर के सोएं। शोधकर्ताओं का मानना है कि रात के समय बेडरूम में आने वाली कोई भी तेज़ रोशनी महिलाओं की प्रजनन क्षमता पर बुरा असर डालती है।

शोध से पता चला है कि जब भी रात के वक्त रोशनी की जाती है तो मेलाटोनिन के स्त्राव में कमी आती है। मेलाटोनिन एक हार्मोन है जिसका स्त्राव अंधेरे में मस्तिष्क की पिनीयल से होता है। यह महिलाओं के गर्भधारण में सहायक होता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं में एक दिन से दूसरे दिन के दौरान प्रकाश और अंधेरे का चक्र व्यवस्थित होना चाहिए।

इन बातों का भी रखें ख्याल

1. गर्भधारण के लिए जब भी सेक्स करें तो ओवुलेशन पीरियड में ही करें। अपनी ओवुलेशन साइकिल का पता लगायें। पीरियड्स के तुरंत बाद का समय गर्भ धारण की दृष्टि से सबसे सही माना जाता है। अपनी ओवुलेशन साइकिल का पता लगाने के लिए आप चाहें तो अपने चिकित्सक से भी संपर्क कर सकती हैं। इसके अलावा ओवुलेशन पीरियड को जानने के लिए घर में एक ओव्‍यूलेशन कैलेंडर भी रख सकती हैं। इससे आपको पता चलेगा कि आपका कौन सा दिन कंसीव करने के लिये सही रहेगा।

2. इसके अलावा खाने में ओमेगा 3 फैटी एसिड और डेयरी प्रोडक्‍ट्स आदि के इस्तेमाल से प्रजनन क्षमता बढ़ती हैं।

3. स्ट्रेस दूर करने के लिए अपने पार्टनर का साथ दें। स्ट्रेस लेने से स्पर्म काउंट कम होता है और उसकी गुणवत्ता भी घटती है। जिससे गर्भ धारण में मुश्किल पैदा हो सकती है। स्ट्रेस दूर करने के लिए अपने पार्टनर को योगा और एक्‍सरसाइज करने की सलाह दीजिये।

अपने जीवन को तनावमुक्त रखने के लिए पौष्टिक आहार और पूरी नींद लें ताकि आपको गर्भ धारण करने में कोई तकलीफ ना हों।

Nainahttps://hindi.blushin.com
"जिंदगी कितनी खुबसूरत है ये देखने के लिए हमें ज्यादा दूर जाने की जरुरत नहीं है, जहाँ हम अपनी आंखे खोल ले वहीँ हम इसे देख सकते है ।"

Share this article

Recent posts

पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं...

कहीं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्युनिटी कमज़ोर तो नहीं? ऐसे पता करें

इम्यूनिटी मतलब शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जो हमें टॉक्सिन्स से लड़ने की क्षमता प्रदान करती है। ये टॉक्सिन्स वायरस, बैक्टीरिया, फंगस, पैरासाइट या...

7 लाजवाब रोमांटिक टिप्स जो इन बारिशों में आपको महका देंगे, आज़मा कर देख लीजिए !

बारिश और रोमांस का एक अजीब अनकहा सा नाता है जो शायद कह कर न बताया जा सके पर वक़्त पर महसूस रूह तक...

19 आकर्षक मेंहदी डिजाइन जो आपकी खूबसूरती में चार-चाँद लगा देंगे

मेंहदी हमेशा से ही महिलाओं के दिलों में एक ख़ास जगह रखती है और किसी तीज-त्योहार में तो इसके लिए होड़ लग जाती है...

इस स्वतंत्रता दिवस पर ज़रूर याद करें देश के लिए इन वीरांगनाओं का अमूल्य योगदान

इस 15 अगस्त 2020 को हम अपने देश के स्वतंत्रता की 73वीं साल गिराह मनाने जा रहें हैं। वैसे वर्तमान समय और परिस्थितियों को...

Popular categories

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments