प्रेगनेंसी के समय कुपोषण से होते हैं गंभीर परिणाम

-

गर्भावस्‍था का समय एक औरत के जीवन सबसे खास पल होता है क्योंकि इस समय उसके के जीवन के साथ बच्चे की जिंदगी भी निर्भर करती है, जिस पर खास ध्यान देना जरूरी होता है। इस दौरान की गई थोड़ी सी लापरवाही भी बच्चे के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है, इसलिए गर्भावस्था के दौरान हर मां को अपने खान पान के साथ अपने स्वास्थ पर भी विशेष ध्यान देने की जरूरी होती है। मां के शरीर में पोषक तत्वों की कमीं बच्‍चे के विकास के लिए तो घातक होती ही है साथ ही बच्चे को पूरी उम्र कमजोर बना देती है। मां के शरीर में होने वाली कमजोरी बच्‍चे को कम उम्र से ही बीमारी का घर बना देती है। इसलिए इस दौरान मां को अपने स्वास्थ की सही देखरेख करने की जरूरी होती है।

malnutrition-during-pregnancy1Image Source:

यह भी पढ़ेः-गर्भकाल के दौरान इन बातों से आपका बच्चा बन सकता है ‘गूगल ब्वॉय

1. पोषक तत्वों की कमी-
मां के द्वारा की जानें वाली थोड़ी सी लापरवाही बच्चे के जीवन के लिए सबसे खतरनाक गलती बन जाती है। इसलिए गर्भवती महिला को ऐसे समय में अपने खानपान के साथ अपने स्वास्थ पर भी पूर्ण ध्यान देना चाहिए। शरीर में पोष्टिक तत्वों की कमी से बच्‍चे के शरीर का विकास रूक जाता है। जिससे बच्चे के जन्म के बाद इसके खतरनाक असर देखने को मिल सकते है।

असंतुलित आहार का असर बच्‍चे के हृदय में होने वाले परिवर्तन के साथ जीवन की गुणवत्ता को भी कम कर देता हैं, जिससे शरीर कमजोर होता चला जाता है। इससे बच्चे के शरीर में स्ट्रोक के खतरे पैदा होने लगते हैं, साथ ही हाइपरटेंशन और मधुमेह होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

Beautiful pregnancy eating saladImage Source:

2. तनाव का होना
कहा जाता है कि जब बच्चा मां के गर्भ में होता है तो मां के द्वारा कि जानें वाली सभी प्रतिक्रियाओं का असर बच्चे पर पड़ता है। ऐसे समय में हर मां को आपने आस-पास के वातावरण को अच्छा बनाना चाहिए। हमेशा खुश रहना चाहिए। जो मां जितने तनाव में रहती है उसका असर सीधे उसके बच्चे के स्वास्थ के साथ ही उसके विकास पर भी पड़ता है। इसका असर बच्चे के जन्म के बाद देखा जा सकता है। मां के तनाव से बच्चे का जीवन भी तनाव में रहने वाली प्रवृत्ति का बन जाता है, बच्चा हमेशा चिड़चड़ाहट से भरा रहता है। इसलिए ऐसे समय में तनाव से बचना चाहिए।

malnutrition-during-pregnancy3Image Source:

यह भी पढ़ेः- सावधान: गर्भवस्था में ग्रीन टी का सेवन हो सकता खतरनाक!

3. खुराक में कमी होना-
गर्भावस्था के दौरान शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हर महिला को पूर्ण खुराक की आवश्यकता पड़ती है। यदि महिलाएं अपने खाने में लापरवाही बरतती हैं तो ऐसे में बच्चे की सेहत पर उसका बुरा असर पड़ता है और बच्चे के शरीर में कई तरह के समस्याएं भी पैदा हो सकती है।

malnutrition-during-pregnancy4Image Source:

4. स्वास्थ का प्रभाव-
गर्भावती महिला को इस दौरान अपने स्वास्थ का पूर्ण ध्यान देना चाहिए, क्योंकि अस्वस्थ रहने से इसका सीधा प्रभाव बच्चे के विकास पर पड़ता है। हर महिला को ऐसे में ना चाहते हुए भी ऐसी चीजों का सेवन करते रहना चाहिए जो बच्चे के विकास में सहायक हो। यहां तक कि जब बच्चा पैदा हो जाता है उस दैरान स्तनपान कराते समय भी महिलाओं को अपने शरीर व खानपान पर पूरा ध्यान देना जरूरी है।

malnutrition-during-pregnancy5Image Source:

यह भी पढ़ेः- प्रेग्नेंसी के दौरान करीना कपूर खाने में इन चीजों का उपयोग कर रख रही हैं अपना ध्यान

Share this article

Recent posts

पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं...

कहीं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्युनिटी कमज़ोर तो नहीं? ऐसे पता करें

इम्यूनिटी मतलब शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जो हमें टॉक्सिन्स से लड़ने की क्षमता प्रदान करती है। ये टॉक्सिन्स वायरस, बैक्टीरिया, फंगस, पैरासाइट या...

7 लाजवाब रोमांटिक टिप्स जो इन बारिशों में आपको महका देंगे, आज़मा कर देख लीजिए !

बारिश और रोमांस का एक अजीब अनकहा सा नाता है जो शायद कह कर न बताया जा सके पर वक़्त पर महसूस रूह तक...

19 आकर्षक मेंहदी डिजाइन जो आपकी खूबसूरती में चार-चाँद लगा देंगे

मेंहदी हमेशा से ही महिलाओं के दिलों में एक ख़ास जगह रखती है और किसी तीज-त्योहार में तो इसके लिए होड़ लग जाती है...

इस स्वतंत्रता दिवस पर ज़रूर याद करें देश के लिए इन वीरांगनाओं का अमूल्य योगदान

इस 15 अगस्त 2020 को हम अपने देश के स्वतंत्रता की 73वीं साल गिराह मनाने जा रहें हैं। वैसे वर्तमान समय और परिस्थितियों को...

Popular categories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments