जाड़ें की शुरूआत होते ही घरों में हीटर का बाहर न‍िकलना शुरू हो जाता है। घरों में धुआ ना हो इसके लिये लोग सिगड़ी में आग जलाने की जगह हीटर का इस्‍तेमाल करना ज्यादा बेहतर समझते है पर क्या आप जानते है कि हीटर का इस्‍तेमाल करना आपकी सेहत के ल‍िए कितना नुकसानदायक साबित हो सकता है। हीटर का ज्‍यादा इस्‍तेमाल शरीर से नमी सोखने का काम करता हैं, इसके अलावा शरीर में ऑक्सीजन के स्तर को घटाता है जिससे हमारा दम भी घुट सकता है।  लेवल भी घटाता हैं।

आइए जानते है कि कैसे हीटर का इस्‍तेमाल करना आपके ल‍िए किस प्रकार से नुकसानदायक साबित हो सकता है।

सर्दियों में हीटर

हवा को बना देता है ड्राई –

हवा को बना देता है ड्राई

रूम में लगा हीटर्स आपके घर के अंदर की नमी को सोखकर हवा को ड्राई बना देते हैं। जिससे सास लेने में दिक्कत आने लगती है ज्यादातर उन लोगों को जो पहले से ही सांस संबंधी बीमारी से पीड़ित हैं उन्हें दम घुटने की समस्या बढ़ सकती है। इस समस्या से यदि आप बचना चाहते तो हीटर का उपयोग कने से पहले रूम में एक बाल्टी पानी भरकर रख लें। साथ ही रूम सभी खिड़की-दरवाजे पूरी तरह से बंद ना करें। थोड़ा बहुत वेन्टिलेशन जरूर रखना चाहिए।

त्वचा में आ सकती है झुर्रियां –

त्वचा में आ सकती है झुर्रियां

हीटर जाड़े में भले ही आपके गर्मी देकर राहत पहुंचाने में मदद करता है पर ये त्वचा को काफी नुकसानदायक भी पंहुचाता हैं। इसके सामने लगातार बैठे रहने से त्वचा रूखी हो जाती है। और आगे चल त्वचा में झुर्रियां की समस्या बन सकती हैं क्योकि हीटर की हवा त्वचा को रूखा बनाकर उसके टिशूज को भी खराब कर देती है। जिनके खराब होने से पिगमेंटेशन की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

आंखों में खुजली की समस्या –

आंखों में खुजली की समस्या

रूम में लगे हीटर से न सिर्फ रूम की नमी को खत्‍म होती है बल्कि आंखों की नमी भी खत्म होने लगती है जिससे ड्राई आई की समस्या भी हो सकती है। इसल‍िए जब कभी आप हीटर चलाएं तो रूम के आसपास पानी भरकर रखें, इससे हवा में नमी बनी रहेगी।

तापमान के साथ उतार-चढ़ाव –

तापमान के साथ उतार-चढ़ाव

आप जब एक बार ब्लोअर या रूम में हीटर चलाकर बैठ जाते हैं तो आपके शरीर का तापमान भी उसी के हिसाब से खुद को एडजस्ट कर लेता है लेकिन जब आप उस कमरे से बाहर निकलते हैं तो शरीर के तापमान में अचानक से परिवर्तन जाता है  शरीर के तापमान में होने वाले ऐसे उतार-चढ़ाव होने से  बीमार पड़ने की आशंकायें ज्यादा बढ़ जाती है।

आगजनी के घटना भी घट सकती है –

आगजनी के घटना भी घट सकती है

हीटर के चालू करने के बाद यदि उसमें थोड़ी सी चूक हो जाये तो शॉर्ट सर्किट और आग लगने का खतरा बढ़ सकता है। इसल‍िए घर में बच्‍चों और बुजुर्ग को रहते हुए सोच समझकर हीटर का इस्‍तेमाल करें। और हीटर के इस्‍तेमाल के बाद हीटर बंद करना न भूले।