हल्दी एक ऐसा मसाला है जिसे खाना बनाने के अलावा और भी कई चीजों के लिए हर घर में मौजूद होता है। ये खाने का रंग और स्वाद देकर बेहतरीन बनाता है। इसके अलावा हल्दी में एंटी-इनफ्लेमेंट्री गुण होते है जिसके चलते घाव भरने में भी ये मदद करता है बाकि ये पेट से जुड़े संक्रमण को भी दूर करने में कारगर साबित हुआ है। साथ ही ये एक ऐसी जड़ी बूटी है जो आपको कई बीमारियों से दूर करता है। सभी लाभों के बावजूद इसके कुछ गंभीर दुष्प्रभाव भी होते है जिसे आप किसी कीमत पर नजरअंदाज नहीं कर सकते है।

Side Effects of Turmeric7

1- एलर्जी-
हल्दी सबके लिए सुरक्षित होती है अगर इसे सही मात्रा में लिया जाए लेकिन फिर भी कुछ लोगों को इससे एलर्जी हो जाती है जिसकी वजह से उन्हें उल्टियां हो जाती है। इसके अलावा कुछ लोगों का जी मिचलाता है कुछ लोगों की त्वचा नाजुक होती है, ऐसे में ऐसा प्रोड्क्ट इस्तेमाल करना जिसमें हल्दी मौजूद हो उससे संक्रमण होने का खतरा भी होता है ।

Side Effects of Turmeric1

2- गर्भवस्था के दौरान-
भारतीय खानों में हल्दी का ज्यादा प्रयोग होता है, जिसे खाना सेहत के लिए कोई खतरा नहीं है लेकिन हल्दी की ज्यादा मात्रा लेने से आपके शरीर को गंभीर नुकसान पहुंच सकता है। इसकी ज्यादा मात्रा की वजह से आपको मासिक धर्म हो सकता है जो कि गर्भावस्था के दौरान खतरनाक साबित हो सकता है। डॉक्टरों का सुझाव रहता है कि गर्भवस्था में महिलाओं को हल्दी का सेवन नहीं करना चाहिए। यहां तक की गर्भवस्था के बाद भी कुछ समय तक हल्दी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

Side Effects of Turmeric2

3- डायबिटीज-
हल्दी में एक रसायन होता है जिसका नाम है करक्यूमिन जो कि खून के शुगर लेवल को कम करता है। जो की डायबिटीज मरीजों के लिए ये फायदेमंद होता है। लेकिन हल्दी को सही मात्रा और सही ढ़ंग से लेना चाहिए क्योंकि ये कभी कभी शुगर लेवल को इतना कम कर देता हैं जिससे व्यक्ति बीमार भी हो सकता है।

Side Effects of Turmeric3

4- इन्फ़र्टिलिटी-
हल्दी के एंटी- इन्फ्लेमेट्री गुणों को कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन जो पुरुष अपने आने वाले समय में बच्चा चाहते है उन्हें कम मात्रा में हल्दी लेनी चाहिए। ये माना जाता है कि ये टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम कर देता है जिसकी वजह से स्पर्म की मात्रा भी कम हो जाती है। कई बार बच्चा ना होने का ये भी एक कारण होता है।

turmaricImage Source: newsworks

5- खून का बहना-
जिन लोगों को जन्म से क्लॉटिंग की समस्या हो उन्हें हल्दी से दूर रहना चाहिए। हल्दी में प्लेटलेट एकत्रीकरण मौजूद होता है जो कि क्लॉटिंग को कम कर देता है जिससे ज्यादा ब्लीडिंग होती है।

Side Effects of Turmeric5

6- लिवर-
जो व्यक्ति जिगर के रोगों से पीड़ित है या फिर इस तरह की समस्याओं की संभावनाएं है तो ऐसे लोगों को भी हल्दी से दूर रहना चाहिए। हल्दी जिगर में कोई भी खराबी कर सकता है जिससे अपच या पीलिया जैसी गंभीर समस्या विकसित हो सकती है।

Side Effects of Turmeric6