गर्भकाल के दौरान इन बातों से आपका बच्चा बन सकता है ‘गूगल ब्वॉय’

-

गर्भावस्था के समय का वो अनमोल पल जब एक महिला इस दहलीज पर अपना पहला कदम रखती है। तब वो ना जाने अपने बच्चे के लिये कितने सपने संजोए हुए रखती है। उस समय वो सिर्फ आने वाले नये जीव के स्वास्थ्य के बारे में ही सोच कर उन पलों का भरपूर आनंद उठाती है, पर क्या आप इन बातों से अनभिज्ञ हैं कि इन दिनों में होने वाले परिवर्तन आपके बच्चे को भी प्रभावित कर सकते हैं। आपके जीवन में होने वाली दैनिक क्रियाओं-प्रतिक्रियाओं का सीधा असर आपके पेट पर पल रहे बच्चे पर पड़ता है। यहां तक कि उन दिनों पर महिलाओं की आदतों का कुछ असर उसके आने वाले शिशु के स्वास्थ्य से लेकर उसके दिमाग पर भी पड़ता है और इस बात को विज्ञान ने भी सिद्ध कर दिया है कि गर्भवती महिला के द्वारा किये गये दैनिक क्रियाओं का असर बच्चे पर पूरी तरह पड़ता है।

habits adopt during pregnancy1Image Source: localaddress

आज इस आर्टिकल में हम आपको गर्भावस्था से जुड़ी ऐसी छह महत्वपूर्ण बातों को बताने जा रहे हैं जिसका उपयोग हर गर्भवती महिला को अवश्य करना चाहिये। साथ ही गर्भवती महिला ही नहीं बल्कि बच्चे के संपर्क में रहने वाले घर के प्रत्येक सदस्यों के साथ-साथ बच्चे के पिता को भी इस बात का ख्याल रखना काफी आवश्यक है।

यदि इन बातों पर अमल पूर्ण रूप से किया गया तो आपके बच्चे का दिमाग सिर्फ तेज ही नहीं होगा, बल्कि आपका बच्चा ब्रिलियंट पैदा होगा।

1. मां की ध्वनि
बच्चे के आगमन के बाद बच्चा मां की गोद को कम मां की आवाज को पहले पहचानता है क्योंकि गर्भस्थ शिशु इस आवाज को लगातार मां के गर्भ में रहकर सुनते आया है। उन दिनों में मां के द्वारा की जाने वाली हर क्रियाओं का असर सीधे पेट में पल रहे बच्चे पर पड़ता है। इसलिये बुजुर्गों का भी कहना है कि इन दिनों में गर्भवती महिलाओं को अच्छा बोलना, अच्छा खाना और अच्छे आचरण के साथ रहना चाहिये। आज के विज्ञान ने भी इस बात को साबित कर बता दिया है कि गर्भवस्था के दिनों में गर्भवती महिलाएं जो भी करती हैं उसका सीधा असर गर्भ में पल रहे नवजात शिशु पर होता है। इसलिए उसे हमेशा सही आचरण के साथ रहते हुये उन खास पलों को जीना चाहिये।

habits adopt during pregnancy3Image Source: co

2. मस्तिष्क तेजी से बढ़ता है
मां के गर्भ में आने के बाद बच्चे का शारीरिक विकास जैसे-जैसे होता है वैसे ही उसका मस्तिष्क भी तीव्र गति से विकास करने लगता है। डॉक्टरों के मतानुसार गर्भधारण के 5वें महीने के बाद से गर्भ में पल रहा बच्चा मां की ध्वनि को सुन उसका रिस्पॉन्स भी देना शुरू कर देता है और मां की आवाज को तो वह तुरंत ही पहचान कर हलचल करना भी शुरू कर देता है।

habits adopt during pregnancy4Image Source: intoday

3. पौष्टिक आहार सबसे जरूरी
जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि मां की हर क्रियायें बच्चे को प्रभावित करती हैं और इन दिनों में मां के द्वारा किये गये आहार का सेवन, चाहे वो समान्य हो या चटपटा, मीठा हो या तैलीय सबके स्वाद वो असानी के साथ पहचान लेता है क्योंकि मां के द्वारा किये गये भोजन का स्वाद बच्चे तक पहुंचता है। इसलिये उन दिनों में मां को “सादा भोजन, उच्च विचार” वाले भोजन का सेवन करना चाहिये।

habits adopt during pregnancy5Image Source: blogspot

4. मां क्या करती है?
क्या आप जानते हैं कि मां के स्पर्श से बच्चे का मानसिक विकास प्रभावित होता है। मां की ममता को बच्चा पहचानने लगता है। मां किस तरह के वातावरण में रह रही है उसके इस वातावरण को बच्चा पूरी तरह से महसूस करता है। डॉक्टरों के अनुसार कभी मां के गर्भ पर किसी प्रकार के उपकरणों की सीधी रोशनी नहीं पड़ना चाहिये। यह बच्चे के लिए खतरनाक साबित होती है। साथ ही मां के खाने, पीने, सोने और चलने का तरीका भी बच्चा महसूस करता है। मां के सोने से लेकर उसके खाने पीने, उठने-बैठने और चलने तक के तरीके का असर भी बच्चे के मानसिक विकास पर विशेष असर डालता है।

habits adopt during pregnancy6Image Source: neufmois

5. तनाव से रहें दूर
तनाव गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक मानी जानी वाली स्थिति होती है। इसके बने रहने से प्रेग्नेंसी के समय समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं। कभी-कभी तो समय से पूर्व ही डिलिवरी हो जाती है। इसके अलावा इन दिनों में होने वाला तनाव बच्चे पर नाकारात्मक प्रभाव डालता है।

habits adopt during pregnancy7Image Source: guide2india

6. डॉक्टर की सलाह
इन दिनों में बड़े बुजुर्गों से लेकर डॉक्टरों के द्वारा भी गर्भवती महिलाओं की यही सलाह दी जाती है कि मां को हमेशा शांत एवं खुश रहना चाहिए। जो बच्चे के मानसिक विकास को प्रभावित करता है। इस तरह से रहने से आपका बच्चा तेज़ दिमाग वाला पैदा होता है। यह स्थिति घर के सभी सदस्यों के ऊपर भी निर्भर करती है।

habits adopt during pregnancy8Image Source: oumoma

Share this article

Recent posts

पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं...

कहीं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्युनिटी कमज़ोर तो नहीं? ऐसे पता करें

इम्यूनिटी मतलब शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जो हमें टॉक्सिन्स से लड़ने की क्षमता प्रदान करती है। ये टॉक्सिन्स वायरस, बैक्टीरिया, फंगस, पैरासाइट या...

7 लाजवाब रोमांटिक टिप्स जो इन बारिशों में आपको महका देंगे, आज़मा कर देख लीजिए !

बारिश और रोमांस का एक अजीब अनकहा सा नाता है जो शायद कह कर न बताया जा सके पर वक़्त पर महसूस रूह तक...

19 आकर्षक मेंहदी डिजाइन जो आपकी खूबसूरती में चार-चाँद लगा देंगे

मेंहदी हमेशा से ही महिलाओं के दिलों में एक ख़ास जगह रखती है और किसी तीज-त्योहार में तो इसके लिए होड़ लग जाती है...

इस स्वतंत्रता दिवस पर ज़रूर याद करें देश के लिए इन वीरांगनाओं का अमूल्य योगदान

इस 15 अगस्त 2020 को हम अपने देश के स्वतंत्रता की 73वीं साल गिराह मनाने जा रहें हैं। वैसे वर्तमान समय और परिस्थितियों को...

Popular categories

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments