मुहांसे आज के युवा लोगों की ज्वंलत समस्या बनती जा रही है एक तो ये दिखने में जितने खराब होते है उतना ही दर्द हमारी त्वचा को देते है। इसकी शुरूआत किशोरावस्था के प्रांरभिक क्षणों से होने लगती है।जब इस यौवनावस्था में युवक या युवतियां प्रवेश करते हैं तो शरीर में कई प्रकार के रासायनिक व हारमोनल परिवर्तन तेजी से होते हैं और ये परिवर्तन तेलिय त्वचा बालों को घातक परिणाम देते है।इन चेहरे पर मुहांसे निकलने शुरू हो जाते हैं। और मुहांसों की समस्या ऐसे ही लोगों के साथ ज्यादा होती है जिनकी त्वचा तैलीय होती हैं।  तैलीय त्वचा चमकदार तो होती है पर इससे त्वचा का रंग गहरा दिखता है |

मुहांसे आज के युवा लोगोंImage Source: infonews24

अत्याधिक तेलीय चेहरे पर ब्लैकहैड, व्हाइटहेड्स,फोड़े फुंसी और त्वचा संबंधित परेशानीयां को बढ़ावा देते है | इसमे सिर्फ एक ही फायदा देखने को मिलता है कि ऑयली त्वचा पर रूखी व साधारण त्वचा के मुकाबले झुर्रिया कम होती है | यह एक अच्छी बात है | पर ऑयली त्वचा का रख रखाव करना काफी मुश्किल होता है|इसमें ना तो हम ज्यादा तली चीजों को खा सकते है हमें अपने स्वाद पर भी हमेशा नियत्रंण रखना पड़ता है।इससे छुटकारा पाने के लिये लोग कितने प्रयास करते है।जो भी विज्ञापन के द्वारा जानकारी दिखाई जाती है उसे लेने में कोई पीछे नही रहता पर परिणाम शून्य के बराबर ही मिलता है जिससे लोग हताश और परेशान हो जाते है।अब तो इन मुहासों से छुटकारा पाकर चिकना चमकता चेहरा पाने की उम्मीद भी  छोड़ते जा रहे है। पर हमारे पास ऐसे कुछ उपाय है कि अगर त्वचा की उचित देखभाल की जाए और अपने खान-पान में बदलाव किया जाये तो इस समस्या से काफी  हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

अत्याधिक तेलीयImage Source: americanpregnancy

मुहांसे को रोकने के जरूरी उपाय
अक्सर देखा जाता है कि आप अपने स्वाद के लिये जरूरी पोषक तत्व वाली चीजों को छोड़ देते है जिसमें कई तरह के पौष्टिक तत्व आपके शरीर एंव त्वचा की ऱक्षा कर सकते है आप अपने खाने में उच्च फाइबर युक्त आहार को शामिल करें ये न सिर्फ हमारे शरीर के वजन को संतुलित करने और बीमारियों से लगने की क्षमता देता है। हमारे शरीर को एक दिन में 40 ग्राम फाइबर की जरूरत होती है। जो हमें अपने घर से ही फलों, सब्जियों, गेंहू, चावल और बीन्स से मिलता है।

मुहांसे को रोकने के जरूरी उपायImage Source: mbigroup

फाइबर के फायदे
– कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करना
– दिल को स्वस्थ रखना
– कोलोन (मलाशय) के कैंसर से बचाव
– आंत्र संबंधी बीमारियों को खत्म करना

फाइबर के फायदेImage Source: bezzia

वसा युक्त और तैलीय भोजन से परहेज़ करें क्योंकि इनसे भी त्वचा अतिरिक्त तेल उत्पन्न करती है। अधिक कैलोरी वाले या मीठे भोजन से भी तेल उत्पन्न होता है तथा मुहांसे बढ़ते हैं।

दिन में कम से कम रोज़ 8 गिलास पानी पीना चाहिए। इससे आपका डायजेस्टिव सिस्टम, स्किन स्वस्थ और चमकदार रहती है इससे चेहरे का रूखापन भी दूर होता है।पानी शरीर से बेकार पदार्थ बहार टॉक्सिक एलिमेंट शरीर से निकल जाते हैं ।

दिन में कम से कम रोज़Image Source: boavontade

फल और सब्जियां
चेरी, खुबानी, सेब और केले जैसे आहार मुहांसे के इलाज शामिल किया जाना चाहिए। हरी सब्जियों की एक सूची तैयार करें और उन्हें अपने आहार में शामिल करें ।

फल और सब्जियांImage Source: diyhealth

हरी चाय
आमतौर पर लोग हरी चाय की चुस्की अपने स्वाद को बढ़ाने के लिये करते है। क्या आप इससे होने वाले फायदे का बारे में जानते है।ये पीने में भले ही कड़वाहट देती है पर चेहरे की सुंदरता को बढ़ाने में यह एक अद्भुत मिठास का काम करती है।हरी चाय सुंदरता बढ़ाने के रूप में भी काम आती है। जिससे त्वचा में सूजन की कम कर करते है, इसमें एंटी ऑक्सीडेंट गुण होता है जो शरीर के अंदर मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते है।

green teaImage Source: freedieting

विटामिन ई, विटामिन ए, ओमेगा -3 फैटी एसिड, विटामिन बी -6, जिंक के साथ आपके आहार में सप्लीमेंट, सेलेनियम और क्रोमियम की भरपूर मात्रा लेने से ये मुहासों के इलाज के लिये एक प्रभावी उपाय सिद्ध हो सकता है।

विटामिन ई, विटामिन ए, ओमेगा -3Image Source: kosovarja

मुहासें अक्सर प्रदूषित धुआं, धूल के कण, सिर में डेंड्रफ, रक्त में अशुद्धि, जैसी समस्याओं के चलते अक्सर निकल आते हैं और इसी प्रकार के धुएं से होने वाले क्रॉनिक इन्फेक्शन से बचने के लिए भरपूर मात्रा में हमें एंटी-ऑक्साइड युक्त भोजन करना चाहिए। एंटी-ऑक्सीडेंट यानी ऑक्सीजन युक्त खाद्य पदार्थ होता है जो हमारे शरीर को प्रदूषित धुएं से होने वाली बीमारियों से बचाते हैं। एंटी-ऑक्सीडेन्ट युक्त पदार्थों का सेवन करने से इसमें मौजूद कैमिकल, कोशिकाओं (सैल्स) को मजबूत बनाते हैं। एंटी-ऑक्साइड सबसे ज्यादा फलों, सब्जियों, चाय, वाइन, लो-फैट डेयरी पदार्थो और विटामिन ए, सी, ई में पाया जाता है।

मुहासें अक्सर प्रदूषित धुआं,Image Source: twimg

मुहासों को दूर करने एंव चेहरे को साफ करने के लिये आप घरेलू संसाधन का उपयोग करे जैसे बेसन,दही,कच्चा दूध….क्योकि आजकल बाज़ार में मिलने वाले हर सौंदर्य प्रसाधन में केमिकल्स पाए जाते हैं जो कि निरंतर प्रयोग करने पर त्वचा के लिए नुकसान पैदा कर सकते हैं। साबुनों और फेस वाश की बजाय घरेलू स्क्रब्स का प्रयोग करें। इससे त्वचा की मृत कोशिकाएं साफ़ होंगी और आपके रोमछिद्र साफ़ होकर आपको एक साफ़ त्वचा मिलेगी।

मुहासों को दूर करने एंव चेहरे कोImage Source: boldsky

चिकनाई युक्त पदार्थ दूध, मक्खन मलाई से परहेज करें क्योंकि इससे एक्ने की संभावना बढ़ती है। इसकी जगह आप छाछ के सावन करे छाछ त्वचा के लिए काफी अच्छी होती है। एक गिलास छाछ सारे दिन आपके शरीर को ठंडा रखता है। शरीर में पानी की की कमी ना होने दे बल्कि इसकी मात्रा को बढ़ाये रखता है जिससे आपके चेहरे में चमक बढ़ेगी ।

चिकनाई युक्त पदार्थ दूध, मक्खन मलाईImage Source: weebly

धूम्रपान,शराब के सेवन से बचे। धूम्रपान से शरीर अंदर से सूख जाता है जिससे हमारी त्वचा में रूखापन होने के साथ सूखे होठ और मूत्र संक्रमण जैसी बीमारी पैदा होने लगती है।

धूम्रपान,शराब के सेवन से बचे।Image Source: structuredlaziness

मुहासों को रोकने के लिये चेहरे पर क्या लगायें

नींबू का रस
खट्टे रसीला फल नीबू में साईट्रिक एसिड होने के कारण इसमें मौजूद विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।जो हमारी रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाने में कारगर होता है। शक्तिशाली जीवाणुनाशक के गुण होने के कारण नीबू दर्द भरे मुंहासों से राहत पाने के लिये मुंहासे कि गंदगी साफ करने के लिये यह काफी उपयागी सिद्ध हुआ है।इसके छिलके को पीसकर चेहरे पर प्रतिदिन लगायें, लाभ जरुर मिलेगा।

नींबू का रस-Image Source: aa.cz

मेथी
आप अपने घर पर सब्जियों के स्वाद को बढ़ाने के लिये मसालों के रूप में उपयोग में लाई जाने बाली मैथी में फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, नियासिन, थियामिन, कैरोटीन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं।जो चेहरे की सुंदरता को बढ़ाने के साथ साथ मुहासों के दर्द में भी निजात दिलाती है।इसके लिये आप मेथी की पत्‍तियों को पीसकर इसका पेस्‍ट चेहरे पर लगा सकती हैं। इसे चेहरे पर 15 मिनट लगा कर छोड़ने के बाद हल्के गरम पानी से धो लें। दर्द गायब हो जाएगा।

मेथीImage Source: thmbcache

नीम
नीम के पत्तों में जबरदस्त औषधीय गुण  होने के कारण यह बहुत ही गुणकारी मानी जाती है, इसके पत्तों में मौजूद बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण होते है जो मुंहासे, छाले, खाज-खुजली, एक्जिमा वगैरह को दूर करने में मदद करते हैं।  यह त्वचा रोग को आसानी से मिटा सकती है। इसे अपने चेहरे पर रोजाना लगाएं और एक्ने तथा मुंहासों से छुटकारा पाएं।

neemImage Source: korab

एलोवेरा का जूस
सौंदर्य से संबंधित कई समस्याओं का सामाधान एलोवेरा से सही किया जा सकता है। यह एक प्राकृतिक कंडीशनर होने के साथ ही यह पूर्णरूप से प्राकृतिक क्रीम है। जिसका गूदा चेहरे पर लगाने से चेहरा सुंदर और चमकदार बन जाता है। और चेहरे से मुंहासों को भी हटा देता है। दिन में यदी दो बार आप अपने मुंहासों पर एलोवेरा का जूस लगाइये, जल्दी ही कील मुहासों से आपको राहत दिलायेगा।

एलोवेरा का जूसImage Source: tunisianow

टी ट्री ऑयल
चेहरे में पड़ रहे मुहासों को रोकने के लिये आप दिन में तीन बार अपने पिंपल्स पर टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदे लगाएं। टी ट्री तेल एक ऐसा तेल है जो एंटीसेप्टिक,एंटीवायरल एवं एंटीफंगल औषधि के रूप में भी काम करता है। यह एक एंटीसेप्टिक एजेंट और बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है।

टी ट्री ऑयलImage Source: kienthuc

शहद
शहद में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) और एन्टी-बैक्टिरीअल के गुण पाये जाते है। जो स्वास्थ्य और सौन्दर्य दोनों क्षेत्र में संजीवनी के समान कार्य करता है इसके अलावा अपने मुंहासो पर हफ्ते भर रोज शहद लगाइये। और 10 मिनट रखने के बाद चेहरे को गरम पानी से धो लीजिये। इससे पोर्स अच्छी प्रकार से बंद हो जाएंगे।

शहदImage Source: fitnessmagazine

चेहरे पर पड़ रहे मुंहासे कोई खतरनाक बीमारी नही है जिसका इलाज संभव ला हो सके। अगर त्वचा की उचित देखभाल और अपने खान-पान में उचित बदलाव किया जाये तो इस समस्या से काफी  हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।हमारे द्वारा दी गई जानकारी को अपनाये और जड़ से इस बीमारी को अपने चेहरे से दूर भगायें। कुछ ही दिनों के बाद आपका चेहरा सुंदर और चमकदार दिखने लगेगा।

चेहरे पर पड़ रहे मुंहासे कोई खतरनाकImage Source: wixstatic