हमारे शरीर की सुंदरता दमकते खूबसूरत चेहरे से होती है। चमकता और दमकता खूबसूरत चेहरा स्वस्थ शरीर का परिचायक भी होता है। यदि इसी चेहरे में मुंहासें, झांई या उसके दाग आ जाएं, तो यह हमारी खूबसूरती को कम कर देते हैं। साथ ही चेहरे को बदरंग भी बना देते हैं। गोरी त्वचा के चेहरे पर लालिमा भला किसे पसंद नही होते, यही लालिमा खूबसूरती का प्रतीक मानी जाती है। कई लोग तो इस तरह की लालिमा लाने के लिए कई प्रकार के फेस शेड का उपयोग करते है। लेकिन अगर चेहरे की यह लाली रोजेसिया की वजह से हो तो काफी कष्टदायक होती है। रोजेसिया मुंहासें अन्य मुंहासों की अपेक्षा, उसका बिगड़ा रूप है। जो 30 से 60 वर्ष की आयु की गोरी त्वचा वाली महिलाओं के माथे, गाल, नाक, और ठोड़ी जैसे हिस्सों को ज्यादा प्रभावित करते हैं। इनमें लाल रंग की छोटी-बड़ी फुंसियों हो जाती हैं। जिनमें काफी मवाद भरा होता है। ये त्वचा के नीचे रक्त वाहिकाओं की सूजन के कारण होते हैं। यह महिलाओं और पुरूषों दोनो को हो सकते हैं, लेकिन ज्यादातर इसके लक्षण महिलाओं में ज्यादा ही पाए जाते हैं।

Rosacean-due-to-acneImage Source: eliminarelacneparasiempre

कारण

इसके फैलने के कई कारण हो सकते हैं। महिलाओं के हार्मोन में असंतुलन, प्रेग्नेंसी, गर्भनिरोधक गोलियों के गलत इस्तेमाल से यह हो जाते है। इसके अलावा सूर्य के प्रकाश के सीधे संपर्क में आने, बहुत ज्यादा मसालेदार खाना खाने, अत्यधिक शराब पीने, तनाव, तीव्र व्यायाम, साइनस संक्रमण और अत्याधिक तापमान मे रहने से ये समस्यां बढ़ जाती है।

इसके लिए कुछ सरल घरेलू उपचार और प्राकृतिक कृत्रिम उपचार यहां हम बताने जा रहे है। जिससे इन्हें कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

Some-domestic-measures-to-remove-the-root-rosaceanImage Source: lionessegem

प्राकृतिक एंव घरेलू उपचार- रोजेसिया के प्रमुख कारणों को हम पहले ही ऊपर बता चुके हैं। अगर आप ऊपर बताई गई चीजों से अपने आपको दूर रखेंगे तो आप इससे सुरक्षित रहेगें। इससे काफी हद तक रोजेसिया की समस्यां से झुटकारा भी पाया जा सकता है। रोजेसिया को जड़ से हटाने के लिये कुछ घरेलू उपाय भी हैं। जिससे असानी से झुटकारा पाया जा सकता है। जैसे ओटमील, ग्रीन टी, शहद, सेब साइडर सिरका, मुलेठी ये सभी अपने एंटी-इंफ्लेमेट्री और एंटी-ऑक्सिडेंट गुणों के कारण रोजेसिया मे होने वाली लाली, खुजली और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। स्वस्थ त्वचा कोशिकाओं को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। इसके अलावा ये त्वचा की जलन को कम कर रोजेसिया से होने वाले निशान को रोकने और त्वचा को बिना ओइली किए नमीं को बरकरार रखने मे मदद करते हैं। इन घरेलू उपायों के जरिए आप असानी से रोजेसिया से झुटकारा पा सकते हैं।

Birth-control-pills-from-abuseImage Source: i.guim

कृत्रिम उपचार

रोजेसिया को अधिक तेजी से हटाने के लिए ऐसे कृत्रिम उपाय है, जिसका प्रयोग आज बहुतायात में किया जा रहा है, क्योंकि इसके परिणाम भी हमें जल्द ही देखने को मिलते हैं। ऐसी कई थेरेपियां है जिसको अपना कर हम रोजेसिया में सही परिणाम पा सकते हैं। जैसे-जीवाणुरोधी वॉसेस , लेजर उपचार, सामयिक क्रीम, एंटीबायोटिक गोलियाँ, फोटो गतिशील चिकित्सा, आईसोट्रीटीनोइन और स्पंदित प्रकाश उपचारों में शामिल हैं। लेजर थेरेपी और फोटोथेरेपी दोनों ही कोमल विकल्प के रूप में प्रयोग की जाती है। जो रोजेसिया को हटाने से साकारात्मक परिणाम देते हैं। यह रक्तवाहिकाओं को मजबूती प्रदान करते हैं। इसके अलावा कई एंटीबॉयोटिक दवाएं जैसे मेट्रोनिडाज़ोल और मौखिक एंटीबॉयोटिक दवाएं जैसे टेट्रासाइक्लीन दवाओं का उपयोग चेहरे की सूजन को कम करने के लिए और रक्त वाहिकाओं  को मजबूत बनाने के लिए किया जाता है।

Laser-TreatmentImage Source: mostcsakennyi

रोजेसिया आज के दौर में कोई खतरनाक बीमारी नही है, जिसका ईलाज ना किया जा सकें। इसके उपचार के लिए सबसे पहले आप डॉक्टर की सलाह अवश्य ही लें और हमारे द्वारा बताए गए नुस्खों की ओर गौर करें, जिससे आप इससे जल्द ही छुटकारा पा सकें।