स्कूल जाने से कतरा रहा हो आपका बच्चा, तो अपनाएं ये तरीके

-

बच्चा जब दुनिया में आता हैं तो सामान्यतः उसे हर चीज नई लगती हैं जिसे वह निहारता हैं और उसे कुछ अपने तरीके से समझने की कोशिश करता हैं। जैसे-जैसे उसकी उम्र बढ़ती हैं वैसे-वैसे घर से गली, गली से स्कूल और स्कूल से कॉलेज कुछ इस तरह से उसका दायरा बढ़ता चला जाता हैं। कुछ पेरेंट्स अपने जीवन के अधूरे सपनों को अपने बच्चों के द्वारा पूरा करना चाहते हैं। जिन बच्चों के मां बाप दोनों ही नौकरी-पेशा वाले होते हैं, वो मजबूरीवश अपने बच्चे को कम उम्र में ही स्कूल भेजना शुरू कर देते हैं। स्कूल का वातावरण एवं उसे साथियों का व्यवहार अच्छा हो तो बच्चा खुशी-खुशी स्कूल जाता हैं, परन्तु ऐसा न होने पर बच्चा स्कूल जाने से कतराने लगता हैं। ऐसे में बच्चों को स्कूल जेल की तरह लगने लगता हैं। स्कूल न जाने वाले बच्चे को उसके माता-पिता डांटते भी हैं। अगर आपका बच्चा भी स्कूल जाने से कतराता हैं तो कुछ इन तरीकों को अपनाएं।

बच्चाImage Source: 

यह भी पढ़ें – आपका बच्चा स्वीमिंग करने जा रहा है तो इन बातों पर करें गौर

1. खेल-खेल में पढ़ाई (Making education fun)-

माता-पिता का यह फर्ज बनता हैं कि वो अपने बच्चों को खेल-खेल में पढ़ाई कराना सिखाएं। आप पढ़ाई को उनके मन पर हावी ना होने दें क्योंकि ऐसा नहीं होता हैं कि सभी बच्चे पढ़-लिखकर ऊंचे पद पर पहुंच जाएं। उन्हें कुछ इस तरह से कहें कि जो बच्चा पढ़ाई-लिखाई पर ध्यान नहीं देते वो अपने जीवन में सफल नहीं हो पाता हैं।

Making education funImage Source: 

2. नियमों की समझ (Understanding of rules)-

बच्चों को स्कूल के नियमों के बारे में समझाएं और उन्हें नियमों का पालन करना भी सिखाएं ताकि वह आपकी बात को समझ कर स्कूल जानें से कतराएं नहीं।

Understanding of rulesImage Source: 

यह भी पढ़ें – बच्चों को भी सिखाएं रिश्तों की अहमियत

3. बच्चों से बात करें (Talk to children)-

अक्सर बच्चा अपने स्कूल के अध्यापक के पनिशमेंट के डर से स्कूल जाने से कतराता हैं और कई बार उन्हें स्कूल की कई अन्य कठिनाइयों का सामना करना पड़ता हैं, तो ऐसे में पेरेंट्स को अपने बच्चों से बात कर इसका कारण पूछना चाहिए और उन्हें समझना चाहिए।

Talk to childrenImage Source:

4. वैज्ञानिक तरीकों का सहारा (Use of scientific methods)-

कोई बार बच्चा स्कूल जाने से कतराता हैं या स्कूल जाना पसंद नहीं करता ऐसे में उसे कई बार अपने स्कूल के अध्यापक पसंद नहीं आते और इसी वजह से उसे पढ़ाई कठिन लगती हैं, इसलिए पेरेंट्स को अपने बच्चों से बात कर उनको इनसे बचने का तरीका बताना चाहिए।

Use of scientific methodsImage Source: 

यह भी पढ़ें – बच्चों के टेढ़े-मेढ़े दांत नहीं चाहती हैं तो अपनाएं यह उपाय

Share this article

Recent posts

पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं...

कहीं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्युनिटी कमज़ोर तो नहीं? ऐसे पता करें

इम्यूनिटी मतलब शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जो हमें टॉक्सिन्स से लड़ने की क्षमता प्रदान करती है। ये टॉक्सिन्स वायरस, बैक्टीरिया, फंगस, पैरासाइट या...

7 लाजवाब रोमांटिक टिप्स जो इन बारिशों में आपको महका देंगे, आज़मा कर देख लीजिए !

बारिश और रोमांस का एक अजीब अनकहा सा नाता है जो शायद कह कर न बताया जा सके पर वक़्त पर महसूस रूह तक...

19 आकर्षक मेंहदी डिजाइन जो आपकी खूबसूरती में चार-चाँद लगा देंगे

मेंहदी हमेशा से ही महिलाओं के दिलों में एक ख़ास जगह रखती है और किसी तीज-त्योहार में तो इसके लिए होड़ लग जाती है...

इस स्वतंत्रता दिवस पर ज़रूर याद करें देश के लिए इन वीरांगनाओं का अमूल्य योगदान

इस 15 अगस्त 2020 को हम अपने देश के स्वतंत्रता की 73वीं साल गिराह मनाने जा रहें हैं। वैसे वर्तमान समय और परिस्थितियों को...

Popular categories

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments