पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

-

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं कराते उन्हें पितृदोष लगता है| इस बार पितृ पक्ष 1 सितंबर से शुरू हो रहा है जो कि 17 सिंतबर 2020 तक चलेगा| तो पितृदोष से मुक्ति के लिए लोग पूजा-अनुष्ठान कराते हैं और ब्राह्मणों को भोजन आदि कराते हैं |

शास्त्रों के अनुसार पितृपक्ष पर विशेष उपाय करने की परंपरा बताई गई हैं और यह उपाय हैं पितृ पक्ष में पितरों को खुश करना। आपको बता दें कि हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद श्राद्ध करना जरूरी माना जाता हैं। ऐसा कहा जाता हैं कि हमारे पूर्वज पितृपक्ष के दौरान पृथ्वी पर आते हैं और हमें अपना आशीर्वाद देते हैं, इसलिए हमें उन्हें खुश करने के लिए कुछ उपायों को करना बेहद जरूरी होता हैं। जिससे हमारे जीवन में सुख-समृद्धि और शांति बनी रहें। आइए जानते हैं पितृपक्ष के दौरान में करने वाले उपायों के बारे में।

यह भी पढ़ें –बुढ़ापे में अपने माता-पिता की ऐसे करें देखभाल

1. पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं (Put water in the pipal tree)-

Put-water-in-the-pipal-tree1

आपको बता दें कि पितृपक्ष में पीपल के पेड़ का महत्त्व काफी होता हैं, इसलिए इन दिनों पीपल के पेड़ की जड़ में जल जरूर चढ़ाएं और साथ ही घी का दीपक भी जलाएं। इससे जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहती हैं।

2. मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं (Feed fishes with wheat balls)-

Feed-fishes-with-wheat-balls1

पितृपक्ष में रोजाना मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं। इसके अलावा रोज काले कुत्ते को रोटी खिलाने से आपके सभी रूके हुए काम पूरे हो जाते हैं, इसलिए इन दिनों अपने जीवन में शांति और सुख-समृद्धि बनाएं रखने के लिए इन उपायों को जरूर करें।

यह भी पढ़ें – हर मां को एक शिक्षक की तरह अपने बच्चे को सिखाने चाहिए जिंदगी के ये सबक

3. गीता का पाठ करना (To read the Gita)-

To-read-the-Gita

पितृपक्ष के दौरान हमारे पूर्वज पृथ्वी लोक पर आते हैं, इसलिए हमें इन दिनों प्रतिदिन गीता का पाठ करना चाहिए ताकि हमें उनका आशीर्वाद मिल सकें।

4. धूप जलाएं (Light Incense stick)-

Light-Incense-stick1

हर रोज घर में पितरों के नाम पर धूप अवश्य जलाएं। इसके लिए जलते हुए कंडे यानि उपले पर सब्जी-पूरी के छोटे-छोटे टुकड़ों को अपने पितरो के नाम पर अर्पित करें।

यह भी पढ़ें – परिवार में ग्रैंड पेरेंट्स होना भी है बेदह जरूरी

5. असहायों और ज़रूरतमंदों की मदद करें (To help needy people)-

feeding and helping who need it

इन दिनों गरीबों को काले कंबल का दान करें या उन्हें भोजन खिलाएं। इससे भी हमें अपने पूर्वजों का आशिर्वाद मिलता है।

पितृ पक्ष के दौरान क्या ना करें:

– पितृ पक्ष में पितरों का श्राद्ध कर्म अवश्य करना चाहिए

– इस दौरान घर में क्लेश और लड़ाई-झगड़े से बचना चाहिए

– पितृपक्ष में मांस और मदिरा का सेवन भी वर्जित माना जाता है

– इस दौरान किसी भी पशु या पक्षी को कष्ट नहीं पहुँचाना चाहिए

– किसी भी ब्राह्मण या बुजुर्ग का अपमान नहीं करना चाहिए

Share this article

Recent posts

पितृपक्ष में करेंगे ये काम तो आशीर्वाद बनकर बरसेगी पितरों की कृपा

हिन्दू धर्म में पितृपक्ष का बड़ा महत्त्व है, इस अवधि में लोग अपने पितरों और पूर्वजों का तर्पण कराते हैं और जो ये नहीं...

कहीं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्युनिटी कमज़ोर तो नहीं? ऐसे पता करें

इम्यूनिटी मतलब शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जो हमें टॉक्सिन्स से लड़ने की क्षमता प्रदान करती है। ये टॉक्सिन्स वायरस, बैक्टीरिया, फंगस, पैरासाइट या...

7 लाजवाब रोमांटिक टिप्स जो इन बारिशों में आपको महका देंगे, आज़मा कर देख लीजिए !

बारिश और रोमांस का एक अजीब अनकहा सा नाता है जो शायद कह कर न बताया जा सके पर वक़्त पर महसूस रूह तक...

19 आकर्षक मेंहदी डिजाइन जो आपकी खूबसूरती में चार-चाँद लगा देंगे

मेंहदी हमेशा से ही महिलाओं के दिलों में एक ख़ास जगह रखती है और किसी तीज-त्योहार में तो इसके लिए होड़ लग जाती है...

इस स्वतंत्रता दिवस पर ज़रूर याद करें देश के लिए इन वीरांगनाओं का अमूल्य योगदान

इस 15 अगस्त 2020 को हम अपने देश के स्वतंत्रता की 73वीं साल गिराह मनाने जा रहें हैं। वैसे वर्तमान समय और परिस्थितियों को...

Popular categories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments